विक्रमी संवत 2076 व बीजेपी स्थापना दिवस अप्रैल 6 को – एक अद्भुत संयोग!

विक्रमी संवत 2076 व बीजेपी स्थापना दिवस अप्रैल 6 को – एक अद्भुत संयोग!

अप्रैल 6, 2019 को चैत्र नवरात्र का पर्व शुरू होने जा रहा है। यह नौ दिन का  तयोहार है । नवरात्र के पेहले दिन को वर्ष प्रतिपदा- हिंदु नव संवत्सर, विक्रमी संवत 2076 का प्रारंभ है । इन नौ दिनों में हम दुर्गा माता के नौ रूपों की आराधना करते हैं । आंध्र प्रदेश को नया साल इस दिन को युगादी से शुरू होता है और महाराष्ट्र में गुडी पर्व से । राक्षस महिषासुर जिस ने सभी देवताओं को हराया था, उसे दुर्गा माँ ने नवरात्र में मर डाला था । हम बुराई के ऊपर अच्छाई की जीत को मनाते हैं । पहले नवरात्र को ही सृष्टि का निर्माण भी हुआ था ; भगवान राम तथा युधिशटर का राज्याभिषेक हुआ था । इस दिन को आर्य समाज का स्थापना दिवस,  संत झुलेलाल की जयंती और डॉ हेडगेवार का जनम दिवस भी मनाया जाता है ।

नवरात्र के नौवे दिन को राम नौमी होती है और इस दिन को भगवान् राम का जनम दिवस भी होता है। मेरे घर में पहले नवरात्र को हम कलश स्थापना करते है । एक कलश में जल डाल कर उसमे आम के पाते लगा कर उसके ऊपर नारियल रखते हैं । नवरात्र के आखरी दिन को हम कंजक/ कन्या पूजन करते हैं ।

इस नवरात्र को जब हम कलश स्थापना करें तो संकल्प लें के हमारे  विचार, शब्द व काम अच्छे हों । देश में खुशहाली होने के लिए, हर घर खुशहाल होना चाहिए । और इस खुशहाली की नीव हम सभ को अपने-अपने घर मैं, अपनी तरह से रखनी होगी ।

पूजा करते समय प्रार्थना करने के देश के विरोध में जो ताकतें सर उठा रही हैं, उन से हम मुक्त हो जाएँ । कन्या पूजन के दिन ये प्रण लें कि बेटियों के प्रति जो समाज में गलत धारनाएं हैं, उन्हें ख़तम करेंगे ।

इस साल भारतीय जनता पार्टी का स्थापना दिवस – 6 अप्रैल, इस शुभ दिन को ही है । क्या यह संयोग है या इस में प्रभु का कोई संकेत है ? बीजेपी भारत के संस्कृति, हिंदु धर्म और देश भक्ति की भावनाओं की कद्र करती है । आज देश भक्त श्री नरेन्द्र मोदी जी के हाथों में देश की बागडोर है तो हम सुरक्षित  महसूस करते हैं । हिंदु संस्कृति को समाज में फिर से पुनर्जीवित किया जा रहा है । हर भारतीय को भारतीय होने पर गर्व है । विश्व भर में भारत को इज्ज़त मिल रही है ।

लोग आयुर्वेद, योग , नेचुरोपैथी, ध्यान , शास्त्र अध्ययन आदि में दिल्चापी लेने लगे हैं । यह सब भारत की शान हैं !

इस जय-भारत और जय-भारतीय की लहर में, आईये हम सब मिल कर देश को और मज़बूत करें और देश द्रोही ताकतों को मिटा दें ।

जय माता की ! जय हिन्द! वन्दे मातरम!

Share with those who matter
  • 73
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
    73
    Shares
Hashtags: , , , , ,